OMG! Flipkart Sale से ऑर्डर किया था Gaming Laptop, लेकिन बदले में मिला ई-कचरा और बड़ा पत्थर

26 Oct, 2022
Twitter OMG! Flipkart Sale से ऑर्डर किया था Gaming Laptop, लेकिन बदले में मिला ई-कचरा और बड़ा पत्थर

Viral News: देशभर में त्यौहार का सबसे बड़ा सीजन चल रहा है, और ऐसे में लोग जमकर खरीदारी कर रहे हैं। यह खरीददारी खासकर ऑनलाइन रूप में देखी जा रही है। ऑनलाइन खरीदारी में भी ग्राहकों की पहली पसंद इलेक्ट्रॉनिक संबंधित सामान है। जिसमें स्मार्ट वॉच, स्मार्ट फोन और लैपटॉप जैसी चीजें शामिल है। 

लैपटॉप की जगह मिला ई-कचरा और बड़ा पत्थर: ग्राहक का दावा 

वही, ग्राहकों की इतनी बड़ी संख्या का ऑनलाइन शॉपिंग करना डिजिटलीकरण की तरफ बढ़ते भारत को दर्शाता है। हालांकि,इसी कड़ी में कुछ ऐसी घटनाएं सामने आ रही है, जो ऑनलाइन शॉपिंग की चुनौतियां बनती जा रही है। दरअसल, कर्नाटक के मैंगलोर में रहने वाले शख्स ने किया है कि उसने 15 अक्टूबर को फ्लिपकार्ट के ऑनलाइन सेल से गेमिंग लैपटॉप ऑर्डर किया था, जिसकी कीमत 55,990 रुपये है। 20 अक्टूबर को जब उसे ऑर्डर डिलीवरी हुआ, तो उस लैपटॉप की जगह एक बड़ा सा पत्थर और कुछ ई-वेस्ट मिला। जिसे देखकर वह उपभोक्ता (चिन्मय) पूरी तरह से हैरान हो गया। 

फ्लिपकार्ट ने शुरू किया है ओपन बॉक्स डिलीवरी' सिस्टम 

ऑनलाइन फर्जीवाड़े को रोकने के लिए फ्लिपकार्ट ने एक 'ओपन बॉक्स डिलीवरी' सिस्टम शुरू किया है। जिसके अनुसार ग्राहक डिलीवरी एजेंट को वन टाइम पासवर्ड (OTP) बताने से पहले बॉक्स खोलने के लिए कह सकता है। हालांकि, चिन्मय के मामले में कोई ओपन-बॉक्स डिलीवरी का ऑप्शन नहीं था। जिस कारण यह सब घटना घटी।

हालांकि, जब उन्होंने अपना ऑर्डर खोला, तो इस बात की जानकारी तुरंत फ्लिपकार्ट को देते हुए रिफंड का अनुरोध किया। जिसके बाद सेलर ने उनके इस अनुरोध को अस्वीकार करते हुए कहा कि शिपिंग के दौरान प्रोडक्ट बॉक्स में मौजूद था। 

रकम की वापिस 

सोशल मीडिया पर इस घटना के ज्यादा फैलने से फ्लिपकार्ट को अपनी गलती स्वीकारनी पड़ी और इसके बाद उन्होंने कस्‍टमर को मुआवजा भी दिया। सोमवार को ग्राहक ने ट्विटर के माध्यम से इस बात जानकारी कि उसे पूरी राशि वापस कर दी गई है। 

Related videos

यह भी पढ़ें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
BACK