BCCI के अध्यक्ष सौरव गांगुली एटीके मोहन बागान के निदेशक पद छोड़ने का किया फैसला, ये है वजह

28 Oct, 2021
Google BCCI के अध्यक्ष सौरव गांगुली एटीके मोहन बागान के निदेशक पद छोड़ने का किया फैसला, ये है वजह

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के अध्यक्ष सौरव गांगुली का क्रिकेट करियर शानदार रहा है। क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद वह BCCI के अध्यक्ष के रूप में काम कर रहे हैं। इसी बीच बीसीसीआई अध्यक्ष ने बड़ा फैसला लिया है। उन्होंने आईपीएल के एटीके मोहन बागान एफसी के निदेशक पद से इस्तीफा देने का निर्णय किया है। मिली जानकारी के अनुसार, सौरव ने पद से हटने की प्रक्रिया भी शुरू कर दी है।

 

 सौरव गांगुली ने किया ATK का पद छोड़ने का फैसला

बता दें कि आरपीएसजी वेंचर्स लिमिटेड के मालिकाना हक वाली फुटबाल टीम है, जिसने हाल ही में लखनऊ फ्रेंचाइजी को भी खरीदा है। सौरव एटीके मोहन बगान के निदेशक होने साथ-साथ इसमें शेयरधारक भी है। आरपीएसजी के उपाध्यक्ष संजीव गोयनका ने इस बारे में बताया कि मुझे लगता है कि सौरव एटीके मोहन बगान से पूरी तरह से हट जाएंगे।' गोयनका ने हालांकि यह भी कहा था कि इस बारे में सौरव ही घोषणा करेंगे।

यह पहली बार नहीं है जब आरपीएसजी ग्रुप ने खेलों में कदम रखा है। समूह के पास पहले आईपीएल फ्रेंचाइजी राइजिंग पुणे सुपरजायंट (2016-17 सीज़न) का स्वामित्व था, और वर्तमान में इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) क्लब एटीके मोहन बागान के बहुमत के मालिक हैं। उन्होंने  लखनऊ फ्रेंचाइजी के लिए भारतीय समूह आरपीएसजी ग्रुप ने सोमवार को बोली जीत ली। विजयी बोली 7,090 करोड़ रुपये की थीगोयनका ने कहा, "पहले बोली लगाना एक शौक था लेकिन अब यह एक व्यवसाय है। मुझे उम्मीद है कि फ्रेंचाइजी का मूल्य 3 से 4 वर्षों में 10,000 करोड़ रुपये हो जाएगा।"

Related videos

यह भी पढ़ें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
BACK