Weekly-Wrap Up: 5 मिनट में जानें ऑटो सेक्टर की 10 बड़ी खबरें

23 May, 2021

 

रॉयल एनफील्ड ने 2.36 लाख मोटरसाइकिलों को रिकॉल किया

रॉयल एनफील्ड ने दुनियाभर से अपनी 236,966 इकाइयों के लिए एक रिकॉल जारी किया है जिसमे मीटिओर 350, क्लासिक 350 और बुलेट 350 शामिल है। इग्निशन कॉयल में संभावित खराबी के चलते इस रिकॉल का एलान किया गया हैइसके चलते इंजन में ख़राबी  इलेक्ट्रिक शॉर्ट सर्किट होने की संभावना है.  दिसंबर 2020 और अप्रैल 2021 के बीच बनायीं गयी गाड़ियों का रिकॉल किया गया है और प्रमुख्ता ७ देशो पर इसका प्रभाव पड़ा है। 

 

फोर्ड की इलेक्ट्रिक पिकअप से उठा पर्दा

इलेक्ट्रिक मस्टैंग के बाद फोर्ड ने अपनी ग्लोबली प्रचलित पिकउप एफ-150 लाइटनिंग के इलेक्ट्रिक अवतार को दुनिया के सामने पेश किया। पूरी तरह इलेक्ट्रिक होने के कारण डिज़ाइन में कुछ बदलाव जरूर दिखेंगे जैसे की  कनेक्टेड हेडलैंप्स और टेललैंप्स  और एयर इंटेक्स। 0 से 96 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार पकड़ने में ये पिकउप  4 सेकंड का समय लेती है और फुल चार्ज 480 किलोमीटर तक चल सकती है। घर की बिजली जाने पर ये इन्वर्टर का काम भी कर सकती है और 3 दिन तक आपके घर को रौशन कर सकती है। यानि की ये गाड़ी है चलता फिरता पावर बैंक। 

 

2022 डुकाटी हाईपरमोटार्ड से पर्दा हटा

डिजाइन के लिहाज़ से इस गाड़ी में ज्यादा बदलाव नहीं है, सबसे बड़ा बदलाव दिखेगा इंजन के रूप में, यूरो 5 मानको पर खरा उतरने वाले इस बाइक में 937 सीसी का दिया गया है जो 112.64 बीएचपी ताकत और 96 एनएम पीक टॉर्क बनाता है. इस इंजन को जोड़ा गया है 6-स्पीड गियरबॉक्स के साथ। तीन वेरिएंट्स - एसपी, आरवीई, स्टैंडर्ड  और तीन राइडिंग मोड्स - स्पोर्ट, अर्बन दिए गए है।  बाकि देशो की तरह भारत में भी 2022 के मध्य में इस बाइक की एंट्री हो सकती है। 

 

गुजरात में मारुती सुजुकी फाउंडेशन का मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल

भारत में स्वास्थ सेवा मज़बूत करने के इरादे से मारुती सुजुकी फाउंडेशन ने गुजरात के सीतापुर में पहली मल्टीस्पेशलिटी फेसिलिटी को तैयार किया है  और इसके लिए जाइडस हॉस्पिटल के साथ साझेदारी की है। 7.5 एकड़ में फैला हुए अस्पताल 3.7 लाख लोगों की स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों को हल किया जा सकता है और इसके लिए मारुती सुजुकी फाउंडेशन 126 करोड़ रुपए खर्च किए हैं। इस वक़्त यहां से कोविड-19 मरीज़ो को सहायता दी जा रही है  जिससे इस महामारी से लड़ा जा सके। 

 

2024 तक लैंबॉर्गिनी की सभी कारे होगी इलेक्ट्रिक

लैंबॉर्गिनी 2024 तक अपनी सभी कारों में हायब्रिड टेक्नोलॉजी देने का फैसला कर चुकी है।  इसके तहत लैंबॉर्गिनी  अपनी तीनो पर्फोर्मस कार्स का इलेक्ट्रिफिकेशन करेगी। शुरुआत होगी लैंबॉर्गिनी एवेंटाडोर के साथ जिसके हायब्रिड मॉडल को साल 2023 में लांच किया जायेगा, उसके बाद लैंबॉर्गिनी उरुस और आखिर में 2024 की शुरुवात में हरानकेन को  हाइब्रिड पावरट्रेन दिया जायेगा। इनमे से कोई भी कार पूरी तरह इलेक्ट्रिक नहीं होगी। अगर सब सही रहा तो एक 2 डोर प्योर इलेक्ट्रिक कार को 2025 के बाद लांच किया जा सकता है। लैंबॉर्गिनी अकेली ऐसी जो सिर्फ 3 मॉडल्स के दम पर पूरी दुनिया में इतनी मशहूर है। 

 

ट्रायम्फ स्क्रैंबलर 1200 और स्ट्रीट स्क्रैंबलर 900 भारत में लॉन्च

ट्रायम्फ मोटरसाइकिल ने स्क्रैंबलर 1200 स्टीव मैक्वीन एडिशन रु 13.75 लाख और स्ट्रीट स्क्रैंबलर 900 सैंडस्टॉर्म  रु 9.65 लाख  की कीमत पर भारत में लॉन्च किया।  2021 स्क्रैंबलर 1200 के साथ 1,200 सीसी का पैरेलल-ट्विन इंजन दिया गया है और  बीएस6 मानकों पर खरी उतरती है। यह इंजन 88 बीएचपी ताकत और 110 एनएम पीक टॉर्क क्षमता वाला है जिसके साथ कंपनी ने 6-स्पीड गियरबॉक्स दिया है। ग्राहकों के लिए बुरी खबर की दुनियाभर में कुल 1,000 ही बेचे जायेगे यानि की कुछ ही यूनिट कुछ यूनिट भारत में बिक्री के लिए आएंगे। 

 

भारत में टायरों के लिए जल्द आएंगे नए नियम

भारत सरकार ने एक अधिसूचना जारी करते हुए टायर्स के लिए नए नियम  का प्रस्ताव रखा है.  नए नियम के अनुसार भारत में बिकने वाले टायर्स को कुछ पैमानों पर खरा उतरना अनियार्य होगा rolling resistance, wet grip और  rolling noise ।  बेहतर माइलेज और सड़क पर इन टायर्स की पकड़ को बेहतर करने के लिए इन नियमो को लाया जा रहा है।  नए नियम अक्टूबर 2021 तक जारी किये जा सकते है और इसके साथ ही भारत में भी टायर रेटिंग सिस्टम की शुरवात हो सकती है।  गौरतलब है की विदेशो में २०१६ से ही ये नियम लागू किये जा चुके है।

 

 

2022 यामाहा ज़ूमा 125 स्कूटर से हटा पर्दा

यामाहा ने ग्लोबल मार्किट में अपने नए ऑफ-रोडिंग के हिसाब से हुई तैयार  स्कूटर ज़ूमा से पर्दा उठाया।  जुमा एक 125cc स्कूटर है  ख़ास ऑफ रोअडिंग के लिए तैयार किया गया है। ज़ूमा 125 में नई डिज़ाइन वाले ऐप्रॉन पर दो अलग गोल हैडलैंप्स दिए गए हैं।  ऑफ-रोडिंग के हिसाब से इस स्कूटर के सस्पेंशन को सेट किया गया है और इसमे भी 125 सीसी का सिंगल-सिलेंडर फोर-स्ट्रोक इंजन दिया गया है जो 9 बीएचपी ताकत और 9 एनएम पीक टॉर्क  देता है

 

हुंडई इंडिया ने तमिलनाडु सरकार को दी 10 करोड़ रुपये की सहायता

कोरोनावायरस से लड़ने के लिए हुंडई इंडिया ने तमिलनाडु सरकार को दी 10 करोड़ रुपये की सहायता। राहत पहल के तहत तमिलनाडु मुख्यमंत्री जन राहत कोष में 5 करोड़ रुपये और बाकि रु 5 करोड़ के चिकित्सा उपकरणों ,ऑक्सीजन मशीन, बाईपैप मशीन, ऑक्सीजन कॉन्संट्रेटर और दो ऑक्सीजन प्लांट के रूप में दी जाएगी। पिछले साल भी कोरियाई कार निर्माता ने कई महामारी राहत गतिविधियों के लिए राज्य को 10 करोड़ रुपये का ऐसा ही समर्थन दिया था। हुंडई के अलावा कई और वाहन निर्माता भी COVID राहत पहल में योगदान दे रहे हैं।

 

2021 Yamaha YZF-R7 का ग्लोबल डेब्यू

ऑल-न्यू Yamaha YZF-R7 कंपनी लेटेस्ट मडिलवेट स्पोर्ट बाइक है, जिसका Global Debut हाल ही में किया गया है। Yamaha R7 कंपनी की मौजूद YZF-R6 को रिप्लेस करेगी और कंपनी की लाइनअप में YZF-R3 और YZF-R1 के बीच के गैप को भरेगी। कंपनी ने इसे सेम Yamaha MT-07 प्लेटफॉर्म पर बनाया है और नई R7 में फीचर्स के तौर पर फुल फेयर्ड डिजाइन दिया है, जिसके चलते ये पूरी तरह ट्रैक पर चलने वाली स्पोर्ट्स बाइक लग रही है। कंपनी ने इसमें सिंगल पॉड LED प्रोजेक्टर हेडलाइट, नए सस्पेंशन्स सेटअप, Yamaha R-type twin DRLs, साइड फेयरिंग में बड़े एयर इनटेक्स और एक पूरी तरह स्पोर्टी राइडिंग पॉजिशन दी है। कंपनी ने इसमें 689 cc का पैरेलेल-ट्विन इंजन दिया है जो MT-07 में भी है। ये इंजन 72 bhp की पावर और 67 Nm का टॉर्क देता है।

Related videos

यह भी पढ़ें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
BACK